loading...

Tuesday, February 6, 2018

Jo Tumhari Khamoshi Se Tumhari Takleef Ka Andaza Na Kar Sake

जो तुम्हारी खामोशी से 
  तुम्हारी तकलीफ का अंदाज़ा न कर सके 
  उसके सामने ज़ुबान से इज़हार करना 
  सिर्फ़ लफ्ज़ों को बरबाद करना है.... 
loading...

0 comments:

Post a Comment

Aap Apna Status Comment Kar Sakte Hai...

loading...

Popular Posts

Contact Form

Name

Email *

Message *